- Advertisement -

- Advertisement -

- Advertisement -

बालाकोट में एयर स्ट्राइक करने वाली 3 यूनिट होंगे सम्मानित, वायुसेना प्रमुख देंगे प्रशस्ति पत्र

73वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर सरकार ने बालाकोट में एयर स्ट्राइक को अंजाम देने वाले वायु सैनिकों के लिए वीरता पुरस्कारों का ऐलान किया था।

0 1

नई दिल्ली (संदेशवाहक न्यूज डेस्क)। विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान की 51वीं स्क्वॉड्रन और मिराज 2000 की 9 स्क्वॉड्रन, फ्लाइट कंट्रोलर मिंटी अग्रवाल की 601 सिग्नल यूनिट को वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया एयरफोर्स डे पर प्रशस्ति पत्र से सम्मानित करेंगे। तीनों यूनिट को यह सम्मान 26 फरवरी को बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ठिकानों पर एयर स्ट्राइक करने और 27 फरवरी को पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों के हमले को नाकाम करने के लिए दिया जाएगा।

73वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर सरकार ने बालाकोट में एयर स्ट्राइक को अंजाम देने वाले वायु सैनिकों के लिए वीरता पुरस्कारों का ऐलान किया था। विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को वीर चक्र से नवाजा गया था। उन्होंने एयर स्ट्राइक के अगले दिन पाकिस्तान के एफ-16 विमान को मार गिराया था। वीर चक्र युद्धकाल में अदम्य साहस के लिए दिया जाने वाला तीसरा सबसे बड़ा सैन्य सम्मान है। पहले नंबर पर परमवीर चक्र और दूसरे पर महावीर चक्र है।

कश्मीर में पाक विमानों की घुसपैठ के दौरान फाइटर कंट्रोलर की जिम्मेदारी संभालने वालीं स्क्वॉड्रन लीडर मिंटी अग्रवाल को युद्ध सेवा मेडल से सम्मानित किया गया था। इस बार वीरता पुरस्कार पाने वालों में मिंटी अकेली महिला थीं।

इसके अलावा 26 फरवरी को एयर स्ट्राइक में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों को ध्वस्त करने में शामिल रहे मिराज 2000 के पांच पायलटों को वायुसेना मेडल दिया गया था। मिराज की 9 स्क्वॉड्रन के पांचों पायलट विंग कमांडर अमित रंजन, स्क्वॉड्रन लीडर राहुल बासोया, पंकज भुजादे, बीकेएन रेड्डी और शशांक सिंह हैं। इन्होंने जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर इजराइल में बने स्पाइस बम बरसाए थे। इस दौरान करीब 300 आतंकी मारे गए थे।

कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर हुए फिदायीन हमले की जिम्मेदारी आतंकी मसूद अजहर के संगठन ने ली थी। हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद भारतीय वायुसेना ने बालाकोट स्थित जैश के आतंकी ठिकानों पर एयर स्ट्राइक की थी।

एयर स्ट्राइक से बौखलाए पाकिस्तान ने अगले दिन यानी 27 फरवरी को कुछ एफ-16 विमानों को कश्मीर में भारत के सैन्य ठिकानों पर हमले के लिए भेजा था। पाकिस्तानी विमानों ने घुसपैठ कर हमले की नाकाम कोशिश की, लेकिन भारतीय वायुसेना की मुस्तैदी से उसके नापाक मंसूबे ध्वस्त हो गए। भारत के मिग-21 और मिराज 2000 लड़ाकू विमानों ने उन्हें खदेड़ा था।

मिग-21 के पायलट अभिनंदन ने डॉग फाइट में पाक विमान को मार गिराया था। इस दौरान भारतीय विमान भी पीओके में जा गिरा और पाक सैनिकों ने अभिनंदन को पकड़ लिया था। इसके बाद भारत ने कूटनीतिक तरीके से 1 मार्च को उन्हें छुड़ा लिया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

15 − 7 =