- Advertisement -

- Advertisement -

- Advertisement -

अयोध्या: ‘रामधुन ‘का हो रहा जाप, 15 लाख श्रद्धालु पंचकोसी परिक्रमा पर निकले

राम मंदिर विवाद पर आने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बीच धार्मिक नगरी अयोध्या रामधुन 'श्रीसीताराम व जय श्रीराम' से गुंजायमान है।

0 3

अयोध्या (संदेशवाहक न्यूज डेस्क)। राम मंदिर विवाद पर आने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बीच धार्मिक नगरी अयोध्या रामधुन ‘श्रीसीताराम व जय श्रीराम’ से गुंजायमान है। यहां गुरुवार सुबह 9.47 मिनट पर पंचकोसी (16 किमी) परिक्रमा शुरू हुई, जिसमें करीब 15 लाख श्रद्धालु आस्था की डगर पर चल रहे हैं। दीपोत्सव पर यहां 47 कंपनी फोर्स मुस्तैद थी। अब 100 कंपनी फोर्स की और डिमांड की गई है। अब इनकी संख्या 150 पहुंचने की उम्मीद है।

श्रद्धालु, बोले- अब दूर होगी बाधा

यहां पांच कोसी परिक्रमा करने के लिए लोग पहुंचे हैं। लोगो का कहना है कि राम हमारे अराध्य हैं। अब लगता है कि, राम मंदिर निर्माण की बाधाएं दूर होने वाली हैं। साथ ही सुप्रीम कोर्ट का फैसला जिसके हिस्से में आए, देश की एकता पर असर नहीं पड़ना चाहिए। अयोध्या में चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा है। धारा 144 भी लागू है, लेकिन इसका परिक्रमा या मेले पर कोई असर नहीं है। फैसले को लेकर हम सभी उत्साहित हैं।

सील हो जाएगी सीमा

डीएम अनुज कुमार झा ने बताया कि अयोध्या जिले को रेड, येलो, ग्रीन और ब्लू जोन में बांट दिया गया है। इनमें 48 सेक्टर और इतने ही सब सेक्टर बनाए गए हैं। जिले के बाहर की परिधि को ब्लू जोन तो उसके भीतर का क्षेत्र ग्रीन जोन में है। येलो जोन राम नगरी अयोध्या है तो रेड जोन विवादित परिसर वाला क्षेत्र है। फैसले के मद्देनजर अब तक तीन हजार लोगों को पाबंद किया जा चुका है। यहां सुरक्षा का ऐसा ताना-बना बुना गया है कि, एक संदेश पर पूरे जिले को सील कर दिया जाएगा। बगैर प्रशासन की अनुमति के कोई भी व्यक्ति अयोध्या के भीतर दाखिल नहीं हो सकेगा।

16000 वॉलियंटर्स रख रहे सोशल मीडिया पर नजर

अयोध्या की सुरक्षा व्यवस्था के लिए फोर्स को शहरी व ग्रामीण क्षेत्र के 150 से ज्यादा स्कूलों में ठहराया गया है। साथ ही 100 कंपनी पीएसी व फोर्स की डिमांड की गई है। अयोध्या पुलिस ने सोशल मीडिया पर किसी भी प्रकार के दुष्प्रचार या किसी भी सम्प्रदाय के खिलाफ भड़काऊ कंटेंट का प्रसार पर नजर रखने के लिए जिले के 1600 स्थानों पर 16 हजार वॉलियंटिर्स को निगरानी के लिए तैनात किया है। वहीं, पड़ोसी जिले आंबेडकर नगर में विभिन्न कॉलेजों में आठ अस्थायी जेल बनाए गए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

20 − 8 =