- Advertisement -

- Advertisement -

- Advertisement -

लोकतंत्र को डराना अपना धर्म मानती है भाजपा, सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार नागरिकों के संविधान से प्राप्त अधिकारों पर कुठाराघात करने पर तुल गई है।

0 28

लखनऊ (संदेशवाहक न्यूज़ डेस्क)। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार नागरिकों के संविधान से प्राप्त अधिकारों पर कुठाराघात करने पर तुल गई है। किसी भी लोकतांत्रिक सरकार का यह काम नहीं हो सकता है कि वह अपने नागरिकों को संविधान प्रदत्त अधिकारों से वंचित करे और सार्वजनिक रूप से उनको बिना अदालती निर्णय के अपराधी घोषित कर दें। इन दिनों ‘भाजपा सरकार‘ राजधानी लखनऊ में एक पक्षीय विरोध को कुचलने का काम कर रही है।

सपा प्रमुख ने कहा कि भाजपा राज में पुलिस ने लखनऊ में होर्डिंग, पोस्टरों के जरिए सार्वजनिक तौर पर चार दर्जन से ज्यादा नागरिकों के फोटो लगाकर उनकी पहचान कराने को कहा है। चौराहों पर इस तरह का प्रदर्शन किसी भी तरह नैतिक नहीं ठहराया जा सकता है। उन्होंने कहा कि भाजपा भारतीय राजनीति का ऐसा चेहरा है जो लोकतंत्र को डराना अपना धर्म मानती है। भारत में संविधान से ही लोकतांत्रिक व्यवस्था लागू है। भाजपा का लोकतंत्र में भी विश्वास नहीं है। असहमति का अधिकार भारतीय संविधान से प्राप्त है, पर भाजपा तो लोकतंत्र की आवाज को ही बंद करना चाहती है।

दो दर्जन की हत्या के बाद यह टिप्पणी कि जो भी सड़क पर आएगा उसको तो मरना ही है भाजपा नेतृत्व की संवेदनहीनता का परिचय देती है। भाजपा सरकार संवाद के बजाय तानाशाही रवैया अपनाने का काम कर रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

3 × 2 =