- Advertisement -

- Advertisement -

- Advertisement -

भिखारी की झुग्गी से मिले 1.77 लाख रुपए के सिक्के, 8.7 लाख रुपए की FD-96 हजार रुपए बैंक में जमा

एक भिखारी की मौत के बाद जब पुलिस ने परिजनों का पता लगाने के लिए उसकी झुग्गी की तलाशी ली।

0 6

मुंबई (संदेशवाहक न्यूज डेस्क)। एक भिखारी की मौत के बाद जब पुलिस ने परिजनों का पता लगाने के लिए उसकी झुग्गी की तलाशी ली तो वहां 1.77 लाख रुपए के सिक्के मिले। 82 साल के भिखारी बीपी आजाद की मौत शुक्रवार को ट्रेन से कटकर हो गई थी।

पुलिस शव परिवार को सौंपना चाहती थी, लेकिन किसी से संपर्क नहीं हो पाया। इसके बाद पुलिस छानबीन करते हुए उसकी झुग्गी तक पहुंची। आजाद की झुग्गी से 8.7 लाख रुपए के फिक्स डिपॉजिट (एफडी) और 96 हजार रुपए बैंक अकाउंट में होने के कागजात मिले।

राजस्थान में रहता है भिखारी का बेटा
आजाद हार्बर लाइन की लोकल ट्रेन में भीख मांगता था। आसपास के लोगों ने बताया कि यहां आजाद का कोई रिश्तेदार नहीं है। बेटा है, लेकिन वह राजस्थान में रहता है। पुलिस ने उससे भी संपर्क करने की कोशिश की। इसके बाद पुलिस ट्रैक के नजदीक उसकी झुग्गी तक पहुंची। आजाद के परिवार की जानकारी के लिए जब झुग्गी की तलाशी ली गई तो उन्हें एक स्टील के डिब्बे में पैन कार्ड, आधार कार्ड और सीनियर सिटीजन कार्ड मिला। इसके अलावा, एक, दो, पांच और दस रुपए के सिक्के भी मिले। ये सभी चार बड़े कंटेनर में रखे थे।

वाशी जीआरपी के सब इंस्पेक्टर प्रवीण कांबले ने बताया कि हम इतने सिक्के देखकर हैरान रह गए। इन सिक्कों की काउंटिंग की गई, जो 1.77 लाख रुपए पर खत्म हुई। हमने शनिवार शाम से सिक्के गिनना शुरू किया और 24 घंटे बाद रविवार को गिनती पूरी हो पाई। इनके अलावा, आजाद के घर से दो बैंकों की पास बुक और एफडी भी मिली। दोनों बैंकों में 96 हजार रुपए जमा हैं। पुलिस ने बताया कि झुग्गी से मिले दस्तावेजों के मुताबिक, “आजाद का जन्म 27 फरवरी, 1937 को हुआ था। इससे पहले वह शिवाजी नगर में रहता था।” आसपास के लोगों ने बताया कि वह अक्सर भीख मांगता था, लेकिन खाना लोगों के साथ बांटकर खाता था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

10 + seven =