- Advertisement -

- Advertisement -

- Advertisement -

सब्जियों के दाम में बढ़ोत्तरी, लोगों को घर से बाहर निकलने से रोकना पुलिस के लिए चुनौती

देश में 21 दिन के हुए लॉकडाउन का दूसरा दिन है। हालांकि, हरियाणा में राज्य सरकार ने दो दिन पहले ही लॉकडाउन कर दिया था।

0 7

पानीपत (संदेशवाहक न्यूज़ डेस्क)। देश में 21 दिन के हुए लॉकडाउन का दूसरा दिन है। हालांकि, हरियाणा में राज्य सरकार ने दो दिन पहले ही लॉकडाउन कर दिया था। प्रदेश में बुधवार से ही पुलिस ने सख्ती दिखानी शुरू कर दी थी लेकिन सुबह और शाम को लोगों को रोकना अभी भी पुलिस के लिए चुनौती बना हुआ है। वही दोपहर में तो पुलिस के डर से जैसे-तैसे रूक रहे हैं लेकिन सुबह व शाम को सड़कों पर नजर आ रहे हैं। वहीं शहरों के अंदर बनी कॉलोनियों और गांवों में स्थिति जस की तस बनी हुई है। वहां भी लोग ऐसे ही घूम रहे हैं। हुक्का पीया जा रहा है और ताश खेले जा रहे हैं। प्रत्येक जिले में सब्जियां और दालों में मुनाफाखोरी दिखने लगी है। मुनाफे के चलते कुछ लोग सब्जियों के दाम दोगुने से ज्यादा करके बेच रहे हैं। सप्लाई चेन भी प्रभावित हो रही है।

पानीपत में थोक विक्रेताओं पर पहुंचने वाले सामान की किल्लत नजर आ रही है। कुछ जगह पुलिस द्वारा सप्लाई करने वाले आटो चालकों व अन्य वाहनों को रोका जा रहा है। हालांकि प्रशासन इसे सुचारू करने के लिए पूरा जोर लगा रहा है लेकिन फिर भी दामों में हल्की बढ़ोतरी जरुर देखी जा रही है।

रेवाड़ी में लोग तो घरों से कम बाहर निकल रहे हैं। प्रशासन ने घर-घर सप्लाई के लिए व्यवस्था बना दी है। लेकिन सब्जियों के दामों में मुनाफाखोरी देखने को मिल रही है। यहां दालों के दाम भी 10 रुपये से 20 रुपये बढ़ गए हैं। सेनिटाइजर होते हुए भी कुछ दुकानदार बेच नहीं रहे हैं, क्योंकि उन्होंने माल ज्यादा दाम पर मंगाया हुआ है और सरकार ने दाम फिक्स कर दिए हैं। ऐसे में वे सेनिटाइजर बेचना बंद कर रहे हैं।

फतेहाबाद जिले में पुलिस गुरुवार को भी सख्ती दिखा रही है। जरुरी सामान खरीदने वालों को ही बाहर निकलने दिया जा रहा है। भट्टू कस्बे के गांव पीली मंदोरी में पुलिस ने एक लड़के और दो लड़कियों की शादी रुकवा दी। हालांकि, बाद में उनसे लिखित में लिया है कि वे लोगों की भीड़ नहीं जुटने देंगे तब जाकर शादी की अनुमति दी।

रोहतक में पुलिस की सख्ती जारी है। भीड़ कम नजर आ रही है। सब्जी मंडी सुबह 4 बजे से 11.30 बजे तक खुली रही। हालांकि सब्जियों में मुनाफाखोरी नजर आ रही है, दाम बढ़े हुए हैं। वहीं कुछ जगह सूखे दूध की भी कमी है। प्रशासन ने रेहड़ी वालों के पास बना दिए हैं। सब्जी व करियाने का सामान घर तक पहुंचाने की व्यवस्था की जा रही है।

सोनीपत जिले में शांति है, पुलिस की सख्ती की वजह से लोग घरों से बाहर नहीं निकल रहे हैं। प्रशासन ने सब्जी व करियाना दुकानों के नंबर शेयर कर दिए हैं। नंबर मिलाओ और राशन का सामान मंगाया जा सकता है। आपूर्ति ठीक है।

करनाल में लोग लॉक डाउन का तो पालन कर रहे हैं। सब्जियां महंगी बेची जा रही है। मनमाने दाम वसूले जा रहे हैं। वहीं जरुरी सामान की सप्लाई चेन भी प्रभावित हो रही है। कुछ स्टोर पर सामान की किल्लत हो रही है।

कैथल, कुरुक्षेत्र और यमुुनानगर में व्यवस्था ठीक है। पुलिस ने जगह-जगह नाकाबंदी कर रखी है। कुरुक्षेत्र में कुछ लोग सड़क पर दिख रहे हैं। प्रशासन ने डिलीवरी के नंबर जारी कर दिए हैं। कैथल में पुलिस गांव और शहर दोनों में गश्त कर रही है। लोगों को बाहर न निकलने की हिदायत दे रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

eight + 14 =