- Advertisement -

- Advertisement -

- Advertisement -

यूपी में मुजफ्फरनगर सहित 2000 से भी ज्यादा लॉक डाउन उल्लंघन करने वालों पर मुकदमा दर्ज

उत्तर प्रदेश में सख्ती के साथ लॉकडाउन की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है।

0 7

मुज़फ्फरनगर (संदेशवाहक न्यूज़ डेस्क)। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा कि पूरे उत्तर प्रदेश में सख्ती के साथ लॉकडाउन की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। पूरे प्रदेश में धारा 188 के उल्लंघन पर पुलिस ने अब तक 2089 एफआईआर दर्ज की है। उन्होंने प्रदेशवासियों से अपील भी की कि अनावश्यक घरों से बाहर न निकलें।

उन्होंने बताया कि प्रदेश के विभिन्न शहरों में अब तक 6044 बैरियर लगाए गए हैं। प्रदेश में अब तक कुल 200150 वाहन चेक किए गए हैं, जिसमें से 49074 वाहनों का चालान किया गया है। इसमें से 3679 वाहनों को सीज किया गया और 1.01 करोड़ रुपये शमन शुल्क वसूल किया गया।

कानपुर लॉकडाउन के दौरान बेवजह घूमने वालों की संख्या में बुधवार को गिरावट दर्ज की गई। मंगलवार को 164 एफआईआर दर्ज की गई और 915 आरोपित किए गए। बुधवार को केवल 51 मुकदमे दर्ज हुए और 199 आरोपित किए। इन सभी को थाने से जमानत करानी पड़ी। डीआईजी अनंत देव ने के लोगों से अनुरोध किया है किया है कि लॉक डाउन का पालन करें और कार्रवाई से बचें।

डीआईजी अनंत देव ने बताया कि सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ भी मुकदमे दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। रोक के बाद भी लोग व्हाट्सएप, फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया मंच पर तरह-तरह की अफवाह फैला रहे हैं। इससे भी माहौल बिगड़ने सकता है। साइबर सेल अफवाह फैलाने वालों पर निगरानी कर रही है।

कानपुर की चकेरी पुलिस ने दूसरे दिन भी सड़क पर बेवजह निकले युवकों को मुर्गा बना दिया। बीच सड़क मुर्गा बनाया और फोटो खींचने के बाद चेतावनी के साथ छोड़ दिया। रामादेवी चौराहे पर कुछ युवक पैदल घूम रहे थे। इन्हें पुलिस ने रोका और बाहर निकलने की वजह पूछी। युवक कोई जवाब नहीं दे सके।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

seventeen + 10 =