- Advertisement -

- Advertisement -

- Advertisement -

थाईलैंड: विद्रोहियों ने 15 लोगों की गोली मारकर याला प्रांत में की हत्या

मुस्लिम बाहुल इलाके में संदिग्ध कट्टरपंथी अलगाववादियों ने 15 लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी।

0 5

बैंकॉक (संदेशवाहक न्यूज डेस्क)। थाईलैंड के दक्षिण याला प्रांत में स्थित मुस्लिम बाहुल इलाके में मंगलवार देर रात संदिग्ध कट्टरपंथी अलगाववादियों ने 15 लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी। अफसरों ने बताया कि हमलावरों ने सुरक्षा चौकी को निशाना बनाया था। इसमें 4 सुरक्षाकर्मी भी घायल हुए। हमलावरों ने भागने के दौरान पुलिस से बचने के लिए सड़क पर विस्फोटक और कीलें बिखेर दीं।

बता दें कि थाईलैंड के दक्षिणी सेना के प्रवक्ता कर्नल प्रमोत प्रोम-इन ने कहा कि बीते कुछ सालों में यह देश में हुई सबसे बड़ी गोलीबारी की घटना है। हमलावर अपने साथ एम-16 राइफल और शॉटगन लेकर आए थे। हमले में 12 लोगों की मौके पर मौत हो गई, जबकि 3 ने अस्पताल में दम तोड़ा। प्रमोत ने कहा कि इस घटना के पीछे विद्रोहियों का हाथ हो सकता है।

थाईलैंड में जारी है हिंसा

हमले को लेकर किसी आतंकी संगठन ने दावा नहीं किया है। हालांकि, इसके पीछे मुस्लिम अलगाववादियों का हाथ माना जा रहा है। थाईलैंड में पिछले पांच दशक से मुस्लिम विद्रोही अपने अलग राष्ट्र की मांग कर रहे हैं। दरअसल, 1909 में थाईलैंड के अलग-अलग हिस्सों पर फ्रांस और ब्रिटेन ने कब्जा कर लिया था। इससे पहले याला, पटरानी और नरथिवत एक स्वतंत्र मलय मुस्लिम सल्तनत का हिस्सा थे। 1932 में आजादी के बाद थाईलैंड बौद्ध बहुल देश बना। इसके बाद मुस्लिम समूहों ने थाईलैंड से अलग देश बनाने की मांग उठाई।

15 सालों में 7000 ने गंवाई जान

हिंसक घटनाओं पर नजर रखने वाली संस्था डीप साउथ वॉच के अनुसार, एक दशक पुराने अलगाववाद के कारण मलय-मुस्लिम प्रांतों याला, पटरानी और नरथिवात में 2004 के बाद से लगभग 7000 लोग मारे गए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

1 × five =